Vaishno Mata Ki Aarti – वैष्णो माता की आरती

वैष्णो माता की आरती (Vaishno Mata Ki Aarti) का प्रत्येक वैष्णो देवी के भक्त के लिए बहुत अधिक धार्मिक महत्व है.

प्रत्येक वर्ष लाखों भक्त वैष्णो माता के दर्शन पूजन के लिए आतें हैं.

वैष्णो माता का धाम पुरे संसार में विख्यात है. सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ वैष्णो माता की स्तुति करना अत्यंत ही मंगलकारी माना गया है.

यहाँ हमने वैष्णो माता की आरती से संबंद्धित एक विडियो दिए हुआ है. आप इस विडियो को अवस्य देखें.

Mata Vaishno Ki Aarti Video

वैष्णो माता मंदिर से संबंद्धित जानकारी Shrine Board की वेबसाइट पर उपलब्द्ध है.

वैष्णो माता की आरती – Vaishno Mata Ki Aarti

|| माता वैष्णो देवी की आरती ||

जय वैष्णवी माता, मैया जय वैष्णवी माता |
हाथ जोड़ तेरे आगे, आरती मैं गाता ||

जय वैष्णवी माता…….

शीश पर छत्र बिराजे, मुर्तिया प्यारी |
गंगा बहती चरनन, ज्योति जगे न्यारी ||

जय वैष्णवी माता …….

ब्रम्हा वेद पढ़े नित द्वारे, शंकर ध्यान धरे |
सेवत चंवर डुलावत, नारद नृत्य करे ||

जय वैष्णवी माता …….

सुन्दर गुफा तुम्हारी, मन को अति भावे |
बार बार देखने को, ए माँ मन चावे ||

जय वैष्णवी माता …….

भवन पे झंडे झूले, घंटा ध्वनि बाजे
ऊँचा पर्वत तेरा, माता प्रिय लागे

जय वैष्णवी माता ……..

पान सुपारी ध्वजा नारियल, भेंट पुष्प मेवा
दास खड़े चरणों में, दर्शन दो देवा

जय वैष्णवी माता …….

जो जन निश्चय करके, द्वार तेरे आवे
उसकी इच्छा पूरण, माता हो जावे.

जय वैष्णवी माता ……..

इतनी स्तुति निश दिन, जो नर भी गावे.
कहते सेवक ध्यानु, सुख सम्पति पावे.

जय वैष्णवी माता …….

Mumba Devi Ki Aarti मुंबा देवी की आरती

Maa Kamakhya Ki Aarti – माँ कामाख्या की आरती

Vaishno Mata Ki Aarti Lyrics

Jai Vaishnawi Mata, Maiya Jai Vaishnawi Mata.
Haath jod tere aage, Aarti mai gata.

Jai Vaishnawi Mata……..

Shish par chatra biraje, Muratiya pyari.
Ganga bahti charnan, Jyoti jage nyaari.

Jai Vaishnawi Mata……

Brahmwed padhe nit dwaare, Shankar dhyan dhare.
Sewat chanwar dulawat, Naarad nritya kare.

Jai Vaishnawi Mata …….

Sundar Gufa Tumhari, Man ko ati Bhaawe.
Bar bar dekhne ko, ae Maa man chaahe.

Jai Vaishnawi Mata …….

Bhawan pe jhande jhule, Ghanta dhwani baaje.
Uncha parwat tera, Mata priya laage.

Jai Vaishnawi Mata ……

Paan supari dhwaja naariyal, Bhent pushp mewa.
Das khade charno me, darshan do dewa.

jai Vaishnawi Mata …….

Jo jan nischay karke,Dwar tere aawe.
Uski ichcha puran, Mata ho jawe.

Jai Viashnawi Mata ……….

Itni stuti nish din, jo nar bhi gawe.
Kahte sewak dhyaanu, Sukh sampati paawe.

Jai Vaishnawi Mata ……

Sheetla Mata ki Aarti – शीतला माता की आरती

वैष्णो माता की आरती कैसे करें

  • वैष्णो माता की आरती के लिए प्रत्येक दिन ही शुभ माना गया है.
  • खास कर के नवरात्रि के दिनों में तो वैष्णो माता की आरती करना अत्यंत ही शुभ और मंगलकारी माना गया है.
  • प्रातः काल और संध्या काल का समय वैष्णो देवी की आरती के लिए उत्तम होता है.
  • प्रातः काल स्नान आदि कर लें. उसके पश्चात सम्पूर्ण श्रद्धा और भक्ति के साथ ही माता की आरती करें.
  • वैष्णो माता की आरती वैष्णो देवी की मूर्ती या तस्वीर के सामने खड़े होकर भी की जा सकती है.
  • वैष्णो देवी की आरती करते समय अपना हृदय में माता की प्रति श्रद्धा और बिस्वास की भावना रखें.

माता वैष्णो देवी की आरती का महत्व

  • वैष्णो माता की आरती अत्यंत ही शुभ और पवित्र आरती है.
  • माँ वैष्णो की स्तुति के लिए भक्तों द्वारा वैष्णो माता की आरती की जाती है.
  • धार्मिक मान्यता है की सम्पूर्ण भक्तिपूर्वक वैष्णो माता की आरती करने से जीवन में सुख और शांति आती है.
  • वैष्णो माता के धाम जाकर माँ वैष्णो के दर्शन मात्र से मनुष्य के समस्त दुखों और कष्टों का अंत हो जाता है.
  • मनुष्य के आत्मबिस्वास में बृद्धि होती है.
वैष्णो देवी माता का प्रसिद्ध मंदिर कहाँ स्थित है?

माँ वैष्णो देवी का प्रसिद्ध मंदिर जम्मू के कटरा के निकट त्रिकुट पर्वत पर स्थित है.

कुछ और महत्वपूर्ण आरतियों की सूचि हमने यहाँ दी हुई है. आप इन्हें भी देख सकतें हैं.

Mahagauri Aarti – माँ महागौरी की आरती

Bharat Mata Ki Aarti भारत माता की आरती

Radha Ji Ki Aarti – राधा जी की आरती

Gayatri Aarti – गायत्री माता की आरती

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *